फतेहाबाद में कोरोना से बेकाबू हुए हालात...

जिले में कोरोना से विकट होते हालात, बीते 24 घंटों में 4 मौतें, 384 नए मामले आए सामने, जिले में 3100 एक्टिव केस, 2900 होम आईसोलेशन में, 200 लोग अस्पताल में हैं उपचाराधीन, जिले में रिकवरी रेट 73 प्रतिशत, ऑक्सजीन को पूरा करने का किया जा रहा है प्रयास, मरीजों का दवाइयों के साथ-साथ मनोवैज्ञानिक तरीके से भी कर रहे हैं इलाज, दवाओं की कालाबाजारी न हो रखी जा रही है पूरी नजर |

फतेहाबाद में कोरोना से बेकाबू हुए हालात...

Fatehabad (Satish Khatak) || जिले में कोरोना से हालत लगातार विकट होते जा रहे हैं। पिछले 24 घंटों में जिले में 4 लोगों ने कोरोना से दम तोड़ा। वहीं 384 मामले नए सामने आए हैं। हालांकि बीते 24 घंटों में जान गंवाने वालों का आंकड़ा जरूर कम हुआ है। पिछले दिनों लगातार 12 से 13 मौतें प्रतिदिन सामने आ रहे थे। मगर संक्रमण की दर अभी भी अपने ऊंचे पायदान पर हैं।

मामले की जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डॉ. विरेश ने बताया कि इस वक्त जिले में करीब 3100 एक्टिव केस हैं जिनमें से अधिकांश होम आइसोलेशन में हैं। उन्होंने बताया कि करीब 2900 लोग घर पर ही इलाज ले रहे हैं जबकि 200 लोग विभिन्न अस्पतालों में इलाज करवा रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिले का रिकवरी रेट करीब 73 प्रतिशत है। सीएमओ ने बताया कि जिले में ऑक्सीजन की कमी नहीं है और उनका प्रयास है कि कहीं ऑक्सीजन की कमी न हो। वहीं रेमडेसिवीर की मांग पर बोलते हुए कहा कि सोशल मीडिया को देखकर चिकित्सक को रेमडेसिवीर लगाने के बारे में बाध्य न करें, क्योंकि यह एक एक्सपेरिमेंटल ड्रग है इसलिए इसे लगाने के कुछ पैमाने हैं, यह चिकित्सक ही तय कर सकता है कि किसे लगाया जाना चाहिए।