फतेहाबाद में बरसी राहत की बूंदे, गलियां बनी नहरें

फतेहाबाद में बरसी राहत की बूंदे, करीब आधा घंटा जमकर बरसे बादल, शहर की गलियां, खेत खलिहान हुए जलमग्न, पिछले कई दिनों से उमस भरी गर्मी से जूझ रहे लोगों को मिली राहत, खेतों में पानी की तरस रही फसलों को मिला जीवनदान, शहर में कई स्थानों पर हुआ जलभराव, गलियां बनी नहरें |

फतेहाबाद में बरसी राहत की बूंदे, गलियां बनी नहरें

Fatehabad (Satish Khatak) || पिछले कई दिनों से पड़ रही उमस भरी गर्मी से आज लोगों को कुछ राहत मिली। फतेहाबाद में आज बाद दोपहर मौसम ने करवट ली और आसमान से राहत की बूंदे धरती पर पड़े। करीब आधा घंटा हुई तेज बरसात से जहां एक ओर लोगों ने राहत की सांस ली और वहीं खेतों में झुलस रही फसलों को भी नया जीवन मिला है।

बरसात से किसानों के चेहरे खिले दिखाई दिए। तेज बरसात ने प्रशासन को दावों को धो दिया और जगह जगह जल भराव देखा गया। गलियां नहरों में तबदील हो गई। बच्चे इनमें एकत्र हुए बरसाती पानी में खेलते देखे गए। बरसात से खुश हुए किसानों ने बताया कि इस वक्त बरसात की बहुत आवश्यकता महसूस की जा रही थी, कयोंकि खेतों में धान की रोपाई चल रही है और इस समय में पानी की बेहद आवश्यकता होती है वहीं नरमा कपास की फसलें भी तेज धूप और गर्मी के कारण झुलसने लगी थी। किसानों ने कहा कि अगर कुछ दिन ओर बरसात न होती तो फसलें शत प्रतिशत नष्ट हो जाती है, आज हुई बरसात ने उनकी मुश्किलों को काफी हद तक कम कर दिया है। वहीं मौसम वैज्ञानिक का कहना है कि आने वाले 3-4 दिनों तक प्रदेश में बरसात का दौर चलता रहेगा।