जवान हरमीत सिंह का राजकीय सम्मान के साथ पैतृक गाँव में हुआ अंतिम संस्कार....

सिरसा के कालांवाली में सेना में कांस्टेबल हरमीत सिंह के पार्थिव शरीर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। पार्थिव शरीर के कालांवाली पहुँचने पर इलाके में गम का माहौल नज़र आया।

जवान हरमीत सिंह का राजकीय सम्मान के साथ पैतृक गाँव में हुआ अंतिम संस्कार....

Sirsa (Surender Saini) ||  सिरसा के कालांवाली में सेना में कांस्टेबल हरमीत सिंह के पार्थिव शरीर का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। पार्थिव शरीर के कालांवाली पहुँचने पर इलाके में गम का माहौल नज़र आया।  पार्थिव शरीर को मोटर साईकिल के काफिले के साथ स्थानीय शिवपुरी लाया गया जहा हिसार छावनी से आये सूबेदार मंजीत सिंह के साथ आई टुकड़ी ने सलामी दी वही प्रशासन की तरफ से कालांवाली के तहसीलदार रामनिवास ने जवान को श्रद्धांजलि दी।

बता दे कि जवान हरमीत सिंह जिसकी उम्र 27 साल थी और जो सेना में बतौर कांस्टेबल भर्ती हुआ था जिसकी बीते दिन पठानकोट (पंजाब) यूनिट में ड्यूटी के दौरान मौत हो गई। मीडिया से बातचीत में कालांवाली के तहसीलदार रामनिवास ने कहा कि हरमीत सिंह जो सेना में बतौर कांस्टेबल भर्ती हुआ था और जिसकी पंजाब के पठानकोट में ड्यूटी थी। ड्यूटी के दौरान अचानक हरमीत सिंह की मृत्यु हो गई जिसका पार्थिव शरीर आज कालांवाली लाया गया और कालांवाली के श्मशान घाट पर जवान का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया है।