महंगाई भी लाया कोरोना, 'गरीब' हो गए कई परिवार

कोरोना काल में महंगाई बेकाबू हो गई है। एक तो लॉकडाउन में लोगों की कमाई घट गई है। ऊपर से हर दूसरे दिन बढ़ती महंगाई ने जीना मुश्किल कर दिया है। कोरोना काल में हाल ये है कि हर किसी को दाल-रोटी की चिंता सताने लगी है।

महंगाई भी लाया कोरोना, 'गरीब' हो गए कई परिवार
Charkhi Dadri (Pradeep sahu) || कोरोना काल में महंगाई बेकाबू हो गई है। एक तो लॉकडाउन में लोगों की कमाई घट गई है। ऊपर से हर दूसरे दिन बढ़ती महंगाई ने जीना मुश्किल कर दिया है। कोरोना काल में हाल ये है कि हर किसी को दाल-रोटी की चिंता सताने लगी है। कोरोना का असर पहले जॉब और कमाई पर पड़ा, फिर महंगाई भी बढ़ गई। इसकी वजह से अच्छी कमाई वाले कई परिवारों पर भी बहुत खराब असर हुआ। कई लोगों की तो जॉब ही चली गई और परिवार गरीबी के मुहाने पर आ खड़े हुए।
जब से कोरोना का प्रकोप शुरू हुआ है, तभी से एक और वायरस ने आम लोगों को अपनी गिरफ्त में लेना शुरू कर दिया। ये वायरस है बढ़ती महंगाई का, जिसने पिछले एक साल के भीतर इस कदर कहर बरपारया है कि लोग त्राहिमाम करने को मजबूर हैं। पिछले एक साल में रोजमर्रा के सामान डेढ़ गुणा तक महंगे हो गए हैं। फल-सब्जियों की कीमत में दो से चार गुणा तक उछाल आ चुके हैं, जबकि हर तरह के दालों और अनाजों के दाम भी काफी बढ़ गए हैं। ये आलम तब है, जब अनाज और सब्जी उगाने वाले किसानों को भी उचित कीमतें नहीं मिल रही हैं। लॉकडाउन के कारण मंडियों में नहीं पहुंच पाने की वजह से किसानों को काफी नुकसान हो रहा है। कोरोना काल के दौरान जहां कई युवाओं की नौकरी चली गई वहीं गरीबों पर खासी मार पड़ी है। पैट्रोल-डीजल के दामों में खासी बढौतरी होने से हालात भी बदतर हो गए ह |

स्थानीय निवासी लीला राम ने बताया कि कोरोना के साथ जहां लाकडाउन के चलते लोगों के काम-धंधे बंद हो गए। वहीं मंहगाई की आम आदमी ऐसी मार पड़ी है कि वे दो समय रोटी भी नहीं खा सकते। फल-सब्जियों के दामों में दोगुनी बढौतरी हो गई है। बलजीत सिंह ने बताया कि पैट्रोल-डीजल दामों में खासी बढौतरी हो गई है। ऐसे में आम आदमी का बजट भी गड़बड़ा गया है। कोरोना काल में लोगों पर दोहरी मार पड़ी है।

मंहगाई की मार ने आमजन की कमर तोड़ी
दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान ने कहा कि कोरोना अपने साथ महंगाई भी लाया है। पिछले एक वर्ष के दौरान पैट्रोल-डीजल के दामों में खासी बढौतरी हुई है वहीं जरूरी सामान भी दोगुना हो गया है। आमजन के लिए यह समय बेहद दुखदायी है। ऐसे समय में सरकार को भी महंगाई पर अंकुश लगाने के साथ-साथ गरीब परिवारों व आमजन के लिए विशेष पैकेज की घोषणा करनी चाहिएं।

 
Attachments area