इनेलो नेता व पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला का बड़ा बयान

सभी का होगा पार्टी में आने पर स्वागत 20 जुलाई को पलवल में गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों से करेंगे मुलाकात

इनेलो नेता व पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला का बड़ा बयान

Rohtak (Harshvardhan) रोहतक पहुंचे इनेलो सुप्रीमो ओमप्रकाश चौटाला ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए यह ऐलान कर दिया कि देश में जिस तरह की परिस्थिति है उसके मद्देनजर किसी भी समय मध्यावधि चुनाव हो सकते हैं। क्योंकि लोग इस सरकार से काफी दुखी हैं। वहीं उन्होंने इनेलो पार्टी से नाराज हुए लोगों से किसी प्रकार का विरोध ना करते हुए पार्टी में स्वागत करने की बात कही है, चाहे वह जेजेपी पार्टी के नेता ही क्यों ना हो। ओम प्रकाश चौटाला रोहतक झज्जर रोड पर स्थित पार्टी कार्यालय में पहुंचे थे।

ओमप्रकाश चोटाला ने कहां कि किसान आंदोलन ने उन लोगों के मुंह पर तमाचा मारा है, जो जाति धर्म में बैठकर राजनीति करते  हैं। इस किसान आंदोलन में सभी जाति धर्म के लोग ने एक मंच पर इकट्ठा होकर अपनी आवाज उठाई है और उसी आवाज में शामिल होने के लिए 20 तथा 21 जुलाई को वह दिल्ली बॉर्डर पर लगे धरनो पर जाकर किसानों से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि हालात ऐसे हैं कि इस भाजपा शासनकाल में सबसे ज्यादा किसानों का शोषण किया गया है और भाजपा के शासन की वजह से देश में ऐसी परिस्थितियां पैदा हो गई है कि मध्यावधि चुनाव किसी भी समय हो सकते हैं और हरियाणा प्रदेश उन मध्यावधि चुनाव में देश की सत्ता को बदलने के लिए अहम भूमिका निभाएगा।

वहीं उन्होंने इनेलो पार्टी को लेकर बयान देते हुए कहा कि जो लोग इनेलो पार्टी छोड़ कर चले गए हैं उनसे किसी प्रकार का विरोध उन्हें नहीं है और जो भी पार्टी में शामिल होगा उसका स्वागत किया जाएगा, चाहे वह जेजेपी का नेता क्यों ना हो। इनेलो छोड़कर गए बहुत से ऐसे नेता जिन्हे इनेलो पार्टी में काफी सम्मान मिला था वह सिर्फ कुछ राजनेताओं की ड्राइवर बन कर रह गए। उनका इनेलो के अलावा इन सरकारी पार्टियों में कहीं भी सम्मान नहीं है। वे इनेलो पार्टी के  संगठन की मजबूती के लिए गांव गांव जाकर संपर्क करेंगे। उन्होंने कहा कि मौजूदा शासन काल में चाहे प्रदेश की जनता हो या फिर देश की जनता महंगाई ने जनता की कमर तोड़ दी है।