Akoda-Dhanunda दहेज मामला: क्रेटा की मांग करने वाले युवक सहित परिजन चढ़े पुलिस के हत्थे...

महेंद्रगढ क्षेत्र के आकोदा-धनौंदा दहेज मामले में पुलिस ने वर पक्ष से तीनों नामजद लोगों को गिरफ्तार कर किया न्यायालय में पेश जहाँ न्यायाधीश ने दी उन्हें जमानत।

Akoda-Dhanunda दहेज मामला: क्रेटा की मांग करने वाले युवक सहित परिजन चढ़े पुलिस के हत्थे...

Mahendragarh (Sushil Sharma) || महेंद्रगढ़ क्षेत्र के आकोदा-धनौंदा दहेज मामले में पुलिस ने वर पक्ष से तीनों नामजद लोगों को गिरफ्तार कर लग्न में दिए गए सामान को भी वधु पक्ष को सौंप दिया है। आपको बता दे कि आकोदा निवासी रिंकू ने धनौंदा निवासी सोनू, उसकी मां मैना देवी व पिता कालूराम के खिलाफ पुलिस में दहेज की मांग करने की शिकायत दी थी। जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने गुरुवार को सोनू, मैना देवी व सोनू के पिता कालूराम को गिरफ्तार कर लिया है। जिन्हें न्यायालय में पेश किया गया जहां उनकी जमानत हो गई है।

लड़की के पिता सुरेंद्र सिंह ने आरोपित लोगो को गिरफ्तार करने पर पुलिस का आभार जताया और आगे न्याय मिलने की बात कही और कहाकि वो किसी भी तरह का कोई समझौता नहीं करेंगे।

बता दे कि गांव आकोदा की लड़की रिंकू की शादी धनौंदा निवासी सोनू के साथ तय हुई थी। जहां वधु पक्ष की तरफ से 20 नवम्बर को लग्न पूजन सहित सभी रीति रिवाज निभाए गए लेकिन वर पक्ष को उनकी इच्छा अनुसार दहेज न मिलने पर लड़के वाले बारात लेकर लड़की के घर पर नहीं पहुंचे। जिसके चलते 23 नवम्बर को गांव आकोदा में अनेक गांवों की पंचायत की गई। जिसमें सर्वसम्मति से वर पक्ष के खिलाफ वधु पक्ष की तरफ से दहेज को लेकर शिकायत भी दर्ज करवाई गई है। लड़की रिंकू ने धनौंदा निवासी सोनू, उसकी मां मैना देवी व पिता कालूराम के खिलाफ पुलिस में दहेज की मांग करने की शिकायत देकर सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी। लड़की के पिता सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि उनकी लड़की की शादी धनौंदा निवासी सोनू के साथ तय हुई थी। उन्होंने बताया कि वे लोग 20 नवम्बर को लग्न लेकर धनौंदा में पहुंचे जहां पर सभी रीति रिवाज के अनुसार कार्य सम्मन्न हुआ। सुरेन्द्र सिंह ने बताया कि उन्होंने अपनी हैसियत के अनुसार लड़के की सोने की चैन, चार सोने की अंगुठी, एक चांदी की अंगुठी, सारा किमती फर्नीचर का सामान, घरेलू सामान, कपड़े आदि दिए थे। उन्होंनें बताया कि 21 नवम्बर को उसके लड़के धीरज के पास करीब पौने 11 बजे फोन आया कि तुमने जो सामान दिया है व बहुत सस्ता व घटिया है इससे गांव में हमारी बेइज्जती हुई है। सोनू की मां मैना देवी ने भी रिंकू को काफी भरा बुला कहा व महंगी गाड़ी सहित दहेज की मांग की। सोनू ने कहा कि वह सब-इंस्पैक्टर है उसकी शादी के दहेज में छोटी गाड़ी से शोभा बनेगी क्या? उसने क्रेटा गाड़ी देने की मांग की। वधु रिंकू ने बताया कि 22 नवम्बर को सुबह सोनू का पिता कालूराम उनके घर पर आया था। जिसने विदा पर उसे एल्टो गाड़ी देने व उनके लड़के को क्रेटा गाड़ी देने की बात कही व बारात न लेकर आने की धमकी देकर चले गए। रिंकू ने कहा कि 22 नवम्बर को बारात न आने से उसके परिवार की सामाज में काफी बेज्जती हुई है। रिंकू ने पुलिस को शिकायत देकर सोनू, उसकी मां मैना देवी व पिता कालूराम के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने की मांग की थी। पुलिस ने रिंकू की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए तीन नामजदों को गिरफ्तार कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।