कैथल में 1 करोड़ से अधिक मूल्य की चोरी हुई गाड़ियों के साथ 7 आरोपी गिरफ्तार

कैथल सीआईए-1 पुलिस ने 1 करोड़ से अधिक मूल्य की चोरी हुई 18 लग्जरी गाड़ियां बरामद करते हुए 7 आरोपियों को किया गिरफ्तार, पुलिस अधीक्षक ने प्रेस वार्ता कर किया खुलासा |

कैथल में 1 करोड़ से अधिक मूल्य की चोरी हुई गाड़ियों के साथ 7 आरोपी गिरफ्तार

Kaithal (Vipin Sharma) || लग्जरी गाड़ियों का शौक और अमीर बनने की चाहत हर किसी व्यक्ति है परंतु रास्ता गलत रास्ता अपनाने पर  मंजिल जेल की सलाखें होती है । कैथल में एक ऐसा ही लग्जरी गाड़ियों की चोरी का मामला सामने आया है कुछ शातिरों  ने हरियाणा व दिल्ली से लग्जरी गाड़ियां चोरी करते थे और यह लोग इतने एक्सपर्ट थे कि गाड़ियों की स्मार्ट चाबी भी बना लेते थे ताकि किसी भी लग्जरी गाड़ी को आसानी से खोला जा सके उसके बाद यह गाड़ियां पहुंच जाती थी देहरादून और कुछ दिन वहां पर एक गैरेज में छुपा कर रखने के बाद इन गाड़ियों को कैथल के आसपास के इलाकों में जो कुछ लोग पुरानी गाड़ियां से खरीदते हैं और उन्हें कुछ बदलाव करके उन्हें बेच दिया जाता था, यह गैराज वाले इतने शातिर थे कि इन गाड़ियों के ओरिजिनल चेसिस नंबर और इंजन नंबर मिटाकर पुरानी खरीदी हुई गाड़ियों के इंजन नंबर और चेसिस नंबर टेक्निक द्वारा चस्पा कर देते थे और इन गाड़ियों की पहचान बदलकर एक नए नंबर के साथ भोले भाले ग्राहकों को बेच दिया जाता था । आज पुलिस ने ऐसी 18 लग्जरी गाड़ियों को इन 7 शातिरों  से बरामद किया है जिनकी कीमत एक करोड़ से ज्यादा बताई जा रही है तस्वीरों में आप साफ़ देख सकते हैं यह किसी शोरूम या  कार बाजार की वीडियो नहीं है यह वह 18 लग्जरी गाड़ी है जिनको पुलिस में शातिरों से बरामद किया है और इनकी पहचान भी बदली जा चुकी है |

कैथल की सीआईए-1 पुलिस ने ऐसे कार चोर गिरोह का खुलासा किया है जो कार चोरी करने के बाद पुरानी गाड़ियों के चेसिस नंबर बदल कर पुराना रजिस्ट्रेशन नंबर और नकली आरसी बनाकर आगे बेच देते थे। पुलिस ने एक करोड़ से अधिक के मूल्य की 18 गाड़ियां बरामद करते हुए 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। कैथल की पुलिस लाइन में प्रेस वार्ता कर कैथल के पुलिस अधीक्षक ने आज खुलासा करते हुए बताया बताया कि आरोपी पुरानी गाड़ियों का चेसिस नंबर चोरी की हुई गाड़ियों पर लगा देते थे और पुरानी गाड़ी की आरसी तैयार कर रजिस्ट्रेशन नंबर लगाकर आगे बेच देते थे पुलिस अधीक्षक ने यह भी बताया कि  तीन आरोपियों से पूछताछ की जाएगी ताकि अगर इनका नेटवर्क और कहीं भी फैला हुआ है और लोग इनके नेटवर्क में तो उनको जल्द गिरफ्तार किया जाएगा